WhatsApp बनने जा रही है एक पेड ऐप? जानें पूरी खबर

loading...

व्हाट्सऐप आज के दौर में सबसे ज्यादा उपयोग की जाने वाली मैसेजिंग ऐप्स में से एक ऐप बन गयी है. जुलाई, 2017 में व्हाट्सऐप ने अपने 130 करोड़ से भी ज्यादा यूज़र्स के मासिक सक्रिय होने का ऐलान किया. ज्यादा सक्रिय यूज़र्स होने का फायदा आजकल स्पैमर भी उठा रहे हैं. जिसमे वो या तो फर्जी वेब्पेज के लिंक शेयर करते हैं. या झूठी खबरों वाले सन्देश शेयर करते हैं. इन संदेशों की श्रृंखला बना दी जाती है और आपसे आगे कई लोगों को भेजने के लिए कहा जाता है.
वायरल सन्देश

व्हाट्सऐप पर आजकल एक सन्देश वायरल हो रहा है. नीचे दिए स्क्रीनशॉट में आप इस वायरल सन्देश को देख सकते हैं.

loading...

यह वायरल मेसेज का हिंदी अनुवाद है.

“यह संदेश हमारे सभी यूज़र्स को सूचित करना है. हाल ही में हमारे सर्वर में काफी भीडभाड हुई है. , इसलिए हम आपको इस समस्या को हल करने में मदद करने के लिए कह रहे हैं. अपने सक्रिय उपयोगकर्ताओं की पुष्टि करने हेतु. हम ये सन्देश अपने सभी उपयोगकर्ताओं को अपने कांटेक्ट में मौजूद सभी लोगों को आगे भेजने के लिए कह रहे हैं. अगर आप ये सन्देश आगे नहीं भेजेंगे. तो WhatsApp आपको सर्विसेज देने के लिए चार्ज करना शुरू कर देगा”

इस सन्देश को WhatsApp के सीईओ जिम बल्समिक की तरफ से चेतावनी का ज़िक्र करके आगे आपको यही सन्देश 10 लोगों को भेजने के लिए कहा जा रहा है.

क्या है सच्चाई?
सबसे पहले आपको बतादें के व्हाट्सऐप के सीईओ जेन कूम हैं न के जिम बल्स्मिक. यह सन्देश जो एक श्रृंखला की तरह फैलाया जा रहा है. वो सिर्फ एक झूठ और धोखा है. व्हाट्सऐप ने अपने उपयोगकर्ताओं से चार्ज वसूलने की कोई योजना नहीं बनाई है. इस तरह के मूर्खतापूर्ण वाले सन्देश 2012 से चलन में हैं. जनवरी 2012 में व्हाट्सऐप ने अपने ओफ़िशिअल ब्लॉग में इस सन्देश को एक छल और धोखा लिखा है. उन्होंने अपने यूज़र्स को इसे आगे न शेयर करने के लिए कहा है.
अगर आपके पास अब इस तरह का सन्देश आये तो कृपया उसे आगे शेयर न करें.

वेरिफिकेशन

1. https://blog.whatsapp.com/208/It-is-a-hoax.-Really-it-is.

loading...